आज कल योगासन दुनियाभर में प्रसिद्धि हो रहा है। योगासन से हमारा शरीर और मन को स्वस्थ रहता हैं। भारतीय समाज में योगासन एक प्राचीन समय में विकसित हुआ था और उसके बाद से लगातार इसका अभ्यास किया जा रहा है। योगासन मन और शरीर को शांत रखने में मदद करता है। योग व्यक्ति को सेहतमंद बनता हैं, और विभिन्न प्रकार के रोगों से छुटकारा पाने में मदद करता है।

योग का महत्व

योग एक कला हैं जो हमारे जीवन शैली को हमेशा के लिए बदल देता है। योग का लक्ष्य हैं- स्वस्थ शरीर और स्वस्थ मन ।

  • शरीर को संतुलित बनाता हैं: योग करने से शरीर का संतुलन बना रहता है। और हमारी हड़िया मजबूत रहती हैं।
  • संपूर्ण स्वास्थ्य ठीक रखता हैं: अच्छा स्वास्थ्य केवल बीमारियों को दूर रखना ही नहीं है बल्कि अपने मन और दिमाग़ के बीच संतुलन स्थापित करना भी होता है। योगा करने से केवल हम बीमारियां से दूर ही नहीं बल्कि खुश और उत्साही भी बनते है।
  • आंतरिक शांति मिलती हैं:  योग आंतरिक शांति, तनाव तथा और अन्य समस्याओं के खिलाफ लड़ने में मदद करता है। योग व्यक्ति में शांति के स्तर को बढ़ाता है और उसके आत्मविश्वास को बढ़ाने में तथा उसे खुश रखने में मदद करता है।
  • सौंदर्य को बढ़ाए: अक्‍सर ज्यादा तेल और तेज़ मसाले खाने से हमारे चेहरे पर कील-मुंहासे हो जाते है जिसके कारण हमारा पूरा चेहरा बेकार हो जाता हैं। योगा करने से इन कील-मुंहासों से छुटकारा मिल जाता है और साथ ही सर के बालों को सुंदर और लम्बे बनाने में भी योग महत्वपूर्ण होता है।
  • गर्भावस्था में योग: योगा गर्भावस्था के समय स्वस्थ रहने में मदद करता हैं। नियमित रूप से योग करने वाली गर्भवती महिलाओं को थकान कम होती है तनाव दूर होता है साथ ही मांसपेशियों में खिंचाव के कारण लचीलापन भी आता है।
  • प्रतिरोधक क्षमता: योग शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ता है और दवाओं पर आपकी निर्भरता को घटता है।  यही साबित हो चुका है कि अस्थमा , हाई ब्लड प्रेशर , टाइप २ डायबिटीज के मरीज योग द्वारा पूर्ण रूप से स्वस्थ हो चुके हैं।
  • मेटाबॉलिज्म बढ़ाएं: नियमित रूप से योगा करने से आपका मेटाबॉलिज्म बढ़ता है। जब आप योग के बाद आराम करते हैं, उस समय भी कैलोरी बर्न होती है, जिससे शरीर में चर्बी नहीं बनती और वजन तेजी से कम होता है। इसलिए इसे नियमित रूप से अपनी दिनचर्या में शामिल करें।
  • डाइजेशन सिस्टम को दुरूस्त बनाएं: शरीर तभी फिट रह सकता है जब आपकी बॉडी का डाइजेशन सही हो ऐसे में योग करने से शरीर का डाइजेशन भी सही रहता है। योग करने से आपको समय पर भूख लगती है और समय पर खाना खाने से आपका डाइजेशन भी बेहतर बना रहता है।
  • योग से बनाए शरीर लचीला और मजबूत: शरीर को मजबूत, कोमल और लचीला बनाने के लिए योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना लें। नियमित योग अभ्यास शरीर की मांसपेशियों को फैलाता है और उन्हें मजबूत बनाता है। जब आप खड़े होते हैं, बैठते हैं, सोते हैं या चलते हैं तो यह आपके शरीर की मुद्रा को बेहतर बनाने में भी मदद करता है और अगर आप गलत मुद्रा के कारण आपके शरीर में दर्द हैं तो उससे भी से राहत दिलाता हैं।
  • प्राणायाम के लाभ: योग के अंग प्राणायाम एवं ध्यान भी योगासनों की तरह शरीर के लिए बहुत फायदेमंद हैं, प्राणायाम के द्वारा श्वास प्रश्वास की गति पर नियंत्रण होता है जिससे श्वसन संस्थान सम्बन्धित रोगों में बहुत फायदा मिलता है। दमा, एलर्जी, साइनोसाइटिस,पुराना नजला, जुकाम आदि रोगों में तो प्राणायाम बहुत फायदेमंद है साथ ही इससे फेफड़ों की ऑक्सीजन ग्रहण करने की क्षमता बढ़ जाती है जिससे शरीर की कोशिकाओं को ज्यादा ऑक्सीजन मिलने लगती है जिसका पूरे शरीर पर सकारात्मक असर पड़ता हैं।
  • ध्यान के लाभ: ध्यान भी योग का अतिमहत्वपूर्ण अंग है। आजकल ध्यान यानि मेडिटेशन का प्रचार हमारे देश से भी ज्यादा विदेशों में हो रहा है आज की भौतिकता वादी संस्कृति में दिन रात भाग दौड़, काम का दबाव, रिश्तो में अविश्वास आदि के कारण तनाव बहुत बढ़ गया है। ऐसी स्तिथि में मेडिटेशन से बेहतर और कुछ नहीं है ध्यान से मानसिक तनाव दूर होकर गहन आत्मिक शांति महसूस होती है, कार्य शक्ति बढती है,नींद अच्छी आती है। मन की एकाग्रता एवं धारणा शक्ति बढती है।

योग के फायदे

  • मांसपेशियों के लचीलेपन में सुधार
  • पाचन क्रिया ठीक रहती हैं
  • अस्थमा में सुधार
  • मधुमेह कम करता हैं
  • दिल संबंधी समस्याओं में सुधार
  • शक्ति और सहनशक्ति को बढ़ाता हैं
  • चिंता, तनाव और अवसाद पर काबू करता हैं
  • वज़न घटाने में मदद करता हैं।

निष्कर्ष

प्रति दिन 20-30 मिनट योग करने से हमारा शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य के बीच संतुलन को बनाए रखता हैं और हमारे जीवन शैली को हमेशा के लिए बदल देता है।

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *